Sun. Oct 20th, 2019

उम्मीद : होमगार्ड मंत्री खिलाड़ी हैं,खिलाड़ी ईमानदार होते हैं, ये विभाग को बुलंदी तक ले जाएंगे- संजय पुरबिया

पुलिस के बराबर वेतनमान दिलाने में होमगार्डों की लड़ाई में दमदारी से खड़ा रहा द संडे व्यूज़: रामेन्द्र यादव

द संडे व्यूज़ ने पहले ही खुलासा कर दिया था कि जवानों को मिलेगा पुलिस के बराबर वेतनमान

डायमंड गेस्ट हाउस में कई राज्यों के पदाधिकारियों ने ब्यूरो चीफ संजय पुरबिया को किया सम्मानित

उ.प्र.होमगाडर्स अवैतनिक अधिकारी व कर्मचारी एसोसिएशन के भव्य कार्यक्रम में पहुंचे हजारों जवान

शेखर यादव

लखनऊ। उ.प्र. होमगाडर्स अवैतनिक अधिकारी व कर्मचारी एसोसिएशन के अध्यक्ष रामेन्द्र यादव ने कहा कि लंबी लड़ाई के बाद आज यूपी के लाखों होमगार्डों को पुलिस के बराबर वेतनमान मिलने जा रहा है उसमें बहुत बड़ा योगदान समाचार पत्र द संडे व्यूज़ व इंडिया एक्सप्रेस न्यूज का है। पूरी बेबाकी के साथ निष्पक्ष खबर लिखने के लिए अपनी पहचान बनाने वाले संजय पुरबिया ने हर मोड़ पर जवानों का साथ दिया है। यह भी कहा कि 25 हजार जवानों को विभाग से हटाने की बातें की जा रही है,यदि ऐसा हुआ तो जवान सडक़ पर उतरकर इसका विरोध करेंगे।

 

इसी क्रम में ब्यूरो चीफ संजय पुरबिया ने कहा कि बिना वजह जवानों का शोषण कर अपनी झोली भरने वाले अफसरों की हमेशा से द संडे व्यूज़ नींद उड़ाता रहा है। कुछ अफसरों की वजह से इस विभाग की छवि धूमिल हो रही है। जब-जब अफसर बिना वजह जवानों का शोषण करेंगे तो उनके खिलाफ पूरी मजबूती से कलमकार का कलम चलेगा।

इस कार्यक्रम में कई राज्यों से एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ-साथ हजारों की संख्या में आए जवानों ने साबित कर दिया कि वे उ.प्र. होमगाड्र्स अवैतनिक अधिकारी व कर्मचारी एसोसिएशन के बैनर तले लंबी लड़ाई के बाद पुलिस के बराबर मिलने वाले वेतनमान की खुशियों को एक साथ मिलकर बांटना चाहते हैं। डायमंड पैलेस में आयोजित भव्य कार्यक्रम में प्रदेश भर से आए जिलाध्यक्ष,मंडलाध्यक्ष व एसोसिएशन के सदस्यों की समस्याओं को सुना गया।

प्रदेश अध्यक्ष रामेन्द्र यादव ने कहा कि गृह विभाग द्वारा 25 हजार होमगार्डों को निकालने की बातें की जा रही है,उस पर सरकार और मुख्यालय द्वारा अभी तक कोई स्पष्टï जवाब नहीं पा रहा है। यदि ऐसा हुआ तो जवान सडक़ों पर उतरने को बाध्य होंगे।

उन्होंने कहा कि सरकार जवानों को जिस एरियर का भुगतान करने जा रही है वो 29 अगस्त 2016 से यानि 6वें वेतनमान का है। जबकि दोमाह बाद ही 7वां वेतनमान लागू कर दिया गया था। आखिर हमलोगों को 7वें वेतनमान के हिसाब से एरियर का भुगतान क्यों नहीं किया जा रहा है ? श्री यादव ने कहा कि मुख्याल पर बैठे चंद अधिकारी बार-बार शासन को गुमराह कर रहे हैं कि एसोसिएशन अवैध है। वे साबित तो करें। आए दिन नियमों को ताख पर रखकर जवानों को निष्कासित किया जा रहा है,इस परंपरा पर अफसर रोक लगाए। सेवानिवृत्त जवानों को कम से कम 10 लाख रुपए दिए जाए।

द संडे व्यज़ के ब्यूरो चीफ संजय पुरबिया ने कहा कि होमगार्ड विभाग भले ही सरकार की नजरों में निरीह,कमजोर माना जाता है लेकिन हकीकत में यहां सबसे अधिक भ्रस्टाचार है। जवानों को जमकर उत्पीडऩ किया जा रहा है। ड्यूटी लगाने और जवानों को हटाने के नाम पर ,फर्जी शिकायतें दर्ज कराकर बाहर का रास्ता दिखाने का भय दिखाकर मोटी वसूली की जा रही है। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि वे भ्रस्टाचार के खिलाफ मुखरता के साथ आवाज उठाते रहे हैं और आगे भी वे एक कलमकार का फर्ज ईमानदारी के साथ निभाते रहेंगे।

उन्होंने यह भी कहा कि विभाग के मंत्री चेतन चौहान वर्ल्ड कप टीम के हीरो रहे हैं और खिलाड़ी पूरी तरह से ईमानदार होते हैं। क्योंकि उनके अंदर देश और अपनों के बीच रहने का जज्बा होता है। उम्मीद है कि वे इस विभाग को बुलंदी तक लेकर जाएंगे। इस दौरान द संडे व्यूज़ के इटावा से रिपोर्टर शेखर यादव को भी फूल-माला से लादकर स्वागत किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *