Mon. Dec 16th, 2019

द संडे व्यूज़ के खबर का असर: सलाखों के पीछे पहुंच गए राम नारायण और उनके गुर्गे

पूर्व मंत्री अनिल राजभर के समय भ्रस्टाचार में शामिल कमांडेंट का बढ़ा मनोबल

क्या मुख्यमंत्री पूर्व मंत्री अनिल राजभर के खिलाफ भी कोई कार्रवाई करेंगे ?

शेखर यादव
लखनऊ। आखिरकार धरे गए होमगार्डों का खून चूसकर करोड़पति बनने वाले गुनहगार। नोयडा के पूर्व कमांडेंट राम नारायण सहित उनके गुर्गे मोंटू सतवीर और शैलेन्द्र सभी अवैतनिक प्लाटून कमांडर सहित अलीगढ़ में तैनात मंडलीय कमांडेंट आगजनी का मुख्य सूत्रधार राम नारायण को आज थाना सूरजपुर,ग्रेटर नोयडा पुलिस ने सलाखों के पीछे धकेल दिया।

सवाल यह है कि मस्टर रोल में इतने बड़े पैमाने पर कब से फर्जीवाड़ा किया जा रहा है ? विभाग के अफसरों की मानें तो पूर्व मंत्री के कार्यकाल में इस विभाग के भ्रष्ट कमांडेंटों के हौसले कुछ ज्यादा ही बुलंद हो गए थे। उन्हीं मनबढ़ कमांडेंट में से एक थे नोयडा के पूर्व कमांडेंट राम नारायण। क्या मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भ्रस्टाचारियों को शह देने वाले पूर्व होमगार्ड मंत्री के खिलाफ कोई एक्शन लेंगे ?

बता दें कि द संडे व्यूज़ व इंडिया एक्सप्रेस न्यूज के खुलासे के बाद नोयडा के एसएसपी एक्शन मोड में आए और उन्होंने सारे मामले से शासन को अवगत कराया। फिर क्या हुआ बताने की नहीं दिखाने की जरूरत है।  द संडे व्यूज़ ने डंके की चोट पर कहा था कि ये आग लगी नहीं बल्कि लगाई गई है। पूरा कुचक्र नोयडा के पूर्व कमांडेंट राम नारायण और मेरठ के मंडलीय कमांडेंट डीडी मौर्या ने मिलकर रची है। इस खेल में इनलोगों का साथ गौतमबुद्ध नगर कमांडेंट में कार्यालय कर्मचारियों ने दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *