Mon. Jan 18th, 2021

मंच से छलका एक पिता का दर्द: मैं सांसद,पत्नी विधायक,फिर भी ना बचा पाये अपने लाडले को…

सांसद का मिशन ‘कौशल’ : हजारों नौजवानों को नशा से दूर करने में लगा एक पिता…

शादी के दरम्यान आठवां वचन लें-ना नशा करेंगे,ना किसी को करने देंगे:कौशल किशोर

सांसद कौशल किशोर के इस मिशन में ‘द संडे व्यूज़’, ‘इंडिया एक्सप्रेस न्यूज डॉटकॉम’ की टीम भी शामिल है

संजय पुरबिया

लखनऊ। देश में हर दिन नशा के सौदागरों की गिरफ्त में आकर मासूम नौजवान मौत की आगोश में समां जाते हैं। मौत सिर्फ एक नौजवान की नहीं होती बल्कि उसके साथ-साथ एक पिता,मां,भाई,बहन सहित हजारों शुभचिंतकों की सोच की मौत होती है। जिसका नौजवान बेटा नशे की वजह से इस जहां को छोड़ जाये सोचिये,उसके मां-पिता पर क्या गुरजती होगी ? जो पिता अपने लाडले के कंधों पर अंतिम यात्रा का स्वप्न देखता हो,उसे अपने ही लाल को कंधा देना पड़े,उस पर क्या मानों पहाड़ टूट पड़ता है। लेकिन उन्हीं मां-बाप में से कुछ ऐसे बिरले होते हैं,जो अपने बेटे के गुजर जाने का दर्द अपने सीने में समेटने के साथ ही महाप्रण लेते हैं जिसे देखकर दुनिया हतप्रभ रह जाती है…। ये महाप्रण ऐसा कि देश-दुनिया भर के माता-पिता अपने बुढ़ापे के सहारे को बचाने के लिये इस मिशन में शामिल होकर गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। जी हां, मैं बात कर रहा हूं मोहनलालगंज के सांसद कौशल किशोर की,जिनका जवान बेटा जैकी शराब पीने की वजह से इस दुनिया को अलविदा कर गया है। वे अपने बेटे की मौत के गम में गमगीन हैं लेकिन उन्होंने एक ऐसा मिशन चला रखा है जिसमें देश-विदेश के लोग शामिल होते जा रहे हैं। जी हां,सांसद ने जो मिशन चलाया है उसका नाम नशामुक्त समाज आंदोलन। कौशल किशोर का मानना है कि सभी परिजनों को संकल्प लेना चाहिये कि ना वे नशा का सेवन करें और अपने बच्चों को नशा से होने वाली नुकसान के बारे में बतायें। आज इसी कड़ी में कानपुर रोड स्थित सीएमएस ऑडिटोरियम में सांसद कौशल किशोर द्वारा चलाये जा रहे नशा मुक्त समाज आंदोलन में उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों से नौजवानों की इस कदर भीड़ उमड़ी की अॅाडिटोरियम छोटा पड़ गया। इस दौरान बच्चों के साथ उनलोगों के माता-पिता भी भारी संख्या में मौजूद थें। सोचिए,आज सूबे के कोने-कोने से आये 2000 नौजवानों ने नशा ना करने का संकल्प लेकर साबित कर दिया कि आने वाला समय देश का भविष्य बेहद खुशहाली भरा होगा।ये देश के नौजवानों के लिये शुभ संदेश है और एक स्वस्थ भारत की खूबसूरत तस्वीर भी दिखायी दे रही थी,जिसे कौशल किशोर की टीम के नौजवानों ने और भी बेहतरीन बना दिया था।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित उपस्थित रहे। विशिष्टष अतिथि के रूप में श्रममंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या जी, प्रख्यात साहित्यकार कवि पद्मविभूषण सुनील जोगी, दर्जा प्राप्त मंत्री वीरेंद्र तिवारी, बाराबंकी के सांसद उपेंद्र सिंह रावत, द्रोणाचार्य पुरस्कार विजेता शिव सिंह, सिटी मांटेसरी स्कूल के संस्थापक जगदीश गांधी की अध्यिक्षता में पूरा कार्यक्रम संपन्न हुआ। कार्यक्रम का संचालन स्क्वार्डन लीडर राखी अग्रवाल व दीपक मौर्या ने किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने कहा कि नशा एक ऐसी बुराई है जो समाज को दिन पर दिन खोखला करती जा रही है। नशे का आदी होकर व्यक्ति पशुओं के समान हो जाता है ।वह पाशविक कृत्य करने लगता है जिससे उसका चारित्रिक व सामाजिक पतन हो जाता है, इसलिए हमें नशे से दूर रहना है। भविष्य में भी नशा नहीं करना है और अन्य लोगों को भी नशा न करने के लिए प्रेरित करना है। इसी क्रम में प्रदेश के श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि शराब ने पूरे समाज को खोखला कर रखा है। इसे प्रबल इच्छा शक्ति के द्वारा रोका जा सकता है। व्यक्ति नशा करके पूरी तरह से पंगु हो जाता है, अपराधी बन जाता है और अपराध पूर्ण काम करने लगता है। इसलिए नशे को रोकना है। उन्होंने कहा कि समाज में जब तक नशा रहेगा तब तक समाज आगे नहीं बढ़ सकता है अगर प्रगति करना है तो नशे को पीछे छोडऩा होगा।

सांसद कौशल किशोर ने अपने संबोधन में कहा कि शादी के सात वचनों के बाद एक आठवां वचन भी होना चाहिये ,जिसमें शादी कराने वाला वर-वधु को संकल्प कराया जाये कि जीवन में कभी भी नशा नहीं करेंगे और अन्य लोगों को भी नशा न करने के लिए प्रेरित करेंगे। आगामी 14 फ रवरी को तीसरा संकल्प समारोह लखनऊ में आयोजित किया जायेगा, जिसमें 4000 युवक भविष्य में नशा न करने का संकल्प लेंगे। इसके बाद मार्च में 8000 नवयुवओं का चतुर्थ संकल्प समारोह आयोजित किया जायेगा जिसमें 8000 युवक संकल्प लेंगे कि वह भविष्य में नशा नहीं करेंगे व अन्य लोगों को प्रेरित करेंगे। सांसद कौशल किशोर ने हॉल में उपस्थित समस्त नौजवानों एवं उनके परिजनों से भावुक अपील की कि मैं सांसद एवं मेरी पत्नी विधायक हैं फि र भी हम अपने बेटे को नशे से नहीं बचा पाये। हम आपसे अपील करते हैं कि आप अपने बच्चों को नशे के मुंह में जाने से रोक लीजिये। उन्हें नशे से होने वाली हानियों से उन्हें परिचित कराइये।

चंडीगढ़ ,मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र,दिल्ली सहित कईअन्य प्रदेशों के भी व्यक्तिआज संकल्प ले रहे हैं कि वह भविष्य में नशा नहीं करेंगे और अन्य लोगों को नशा न करने के ना करने की नसीहत देंगे। उन्होंने बताया कि पूरे उत्तर प्रदेश के लगभग 25 जिलों के व्यक्ति आज कार्यक्रम में मौजूद हैं। कार्यक्रम में मुख्य रूप से बाराबंकी के सांसद उपेंद्र सिंह रावत, दर्जा प्राप्त मंत्री वीरेंद्र तिवारी, मलिहाबाद, विधायक जय देवी कौशल, सांसद प्रतिनिधि प्रवीण अवस्थी, स्थानीय पार्षद प्रतिनिधि सौरभ सिंह मोनू,पार्षद कमलेश मौर्य, भाजपा युवा मोर्चा के सिद्धार्थ पांडेय डंपी सहित सांसद कौशल किशोर किशोर टीम के मुख्य अंग प्रवीण अवस्थी, के.के.रघुवंशी, मनीष शुक्ला, प्रशांत श्रीवास्तव,सोनू गौड़,प्रवीण तिवारी,संजय सिंह,अमित पाण्डेय,कुलदीप मिश्रा,प्रभात राठौर, श्रद्धा श्रीवास्तव, सुबोध कुमार, गुड्डू लोधी, प्रभात किशोर, विकास किशोर, शुभम रावत, ललित रावत, धर्मेंद्र सिंह, श्रवण रावत, अनीता रावत आदि के साथ हजारों संकल्प करता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *