Wed. Oct 21st, 2020

लखनऊ में विधान भवन के सामने महिला ने लगाई आग, हालत गंभीर

लखनऊ। अमेठी की पीडि़ता के विधान भवन के सामने आग लगाकर आत्मदाह के प्रयास का मामला अभी पुराना भी नहीं पड़ा था कि मंगलवार को एक महिला ने फिर आत्मदाह का प्रयास किया है। इस महिला ने ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगा ली है। महिला को गंभीर हालत में सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।सिविल अस्पताल के सीएमएस डॉ. एस.के नंदा के मुताबिक महिला 90 प्रतिशत झुलस गई है।

लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली क्षेत्र के विधान भवन के सामने महिला ने आत्मदाह का प्रयास किया है। मामला धर्म परिवर्तन का बताया जा रहा है। अंजली तिवारी ने धर्म परिवर्तन के बाद अपना नाम आयशा रखा था। इसका पति सउदी अरब में नौकरी करता है। छत्तीसगढ़ की रहने वाली अंजली तिवारी ने वैवाहिक संबंध खराब होने और दहेज उत्पीड़न के चलते आग लगाकर जान देने का प्रयास  किया है। पुलिस उसके आत्मदाह करने के प्रयास का कारण जानने में लगी है।

विधानभवन के पास मंगलवार को महराजगंज जिले की एक महिला ने खुद पर करोसिन उड़ेलकर आत्मदाह का प्रयास किया। महिला को आग की लपटों में घिरा देखकर मौके पर मौजूद लखनऊ पुलिसकॢमयों ने कपड़े से आग बुझाकर महिला को कंबल में लपेटकर सिविल अस्पताल पहुंचाया। सिविल के सीएमएस डॉ.एसके नंदा के मुताबिक महिला 90 प्रतिशत जल गई है, उसकी हालत नाजुक है।

आशिक के जाने के बाद अंजली उसके घर में रहने की जिद करने लगी। चार अक्टूबर को वह अपने कथित पति के घर के सामने धरने पर बैठ गई। वहां पर मौके पर पहुंची महाराजगंज पुलिस उसे लेकर महिला थाने गई थी, लेकिन मामले का हल नहीं निकल पाया। अंजली ने 13 अक्टूबर को आत्मदाह की बात को लेकर नोटिस दिया था। उसकी तलाश में महिला एसओ मनीषा सिंह को लखनऊ भेजा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *