Tue. Mar 2nd, 2021

लखनऊ में सीनियर्स की घ‍िनौनी हरकत: स‍िगरेट पीने से मना करने पर दिव्यांग छात्र का यौन शोषण

रात मेस में खाने के बाद उसे ले गए थे कमरे में

शिकायत के बाद भी विवि प्रबंधन दबाए रहा मामला

लखनऊ। शासन के लाख आदेश के बाद भी विवि प्रबंधन रैगिंग रोकने में पूरी तरह से असमर्थ नजर आ रहा है। ताजा मामला डा. शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विवि का प्रकाश में आया। जहां बीएड और एमएड के छात्रों ने उसे कमरे में बंद कर सिगरेट पिलाई। छात्र के विरोध पर उसे पीटा और यौन शोषण किया। छात्र की तहरीर पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ तहरीर देकर पारा थाने में मुकदमा दर्ज कराया है।

पीडि़त विवि से बीए प्रथम सेमेस्टर का छात्र है। आरोप है कि चार फरवरी को रात में वह मेस में खाना खा रहा था। तभी बीएड प्रथम सेमेस्टर के छात्र आकाश और एमएड तृतीय सेमेस्टर के छात्र सत्येंद्र यादव पहुंचे। उसे परेशान करने लगे। जब वह खाना खाने के लिए हॉस्टल में जाने लगा तो बरामदे में ही उसे पकड़ लिया। इसके बाद जबरन खींचकर छात्रावास बी-टू के प्रथम तल पर स्थित कमरा नंबर 233 में ले गए। जहां उसे सिगरेट पिलाने लगा। मना करने पर जबरन उसके मुंह में सिगरेट डाल दी। पीडि़त छात्र ने जब उन्हें धक्का देकर गिरा दिया। इस पर आकाश और सत्येंद्र आग बबूला हो गए। दोनों ने उसका यौन शोषण किया। उसके बाद शिकायत करने पर धमकी देते हुए भाग निकले।

आरोप है कि छात्र ने मामले की जानकारी अगले दिन विवि प्रशासन को दी। विवि प्रशासन ने मामला दबाए रखा। पीडि़त छात्र ने इसके बाद आठ फरवरी को पीडि़त छात्र ने खुद पारा थाने में जाकर तहरीर दी। इसके बाद पुलिस ने आरोपित छात्रों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। वहीं डा. शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विवि के प्रवक्‍ता से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्‍होंने ऐसी क‍िसी भी जानकारी होने से इंकार कर द‍िया। प्रवक्ता आशिया ने बताया क‍ि विश्वविद्यालय प्रशासन के सामने ऐसा कोई प्रकरण नहीं आया है। इसके बावजूद यदि ऐसा हुआ है तो संबंधित छात्रों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *