ग्रीन-टी पीने के हैं शौक़ीन तो जान लें इससे होने वाले नुकसान!

0
15

नई दिल्ली। चाय किसी अच्छी नहीं लगती, लेकिन इसे ज़्यादा पीना नुकसानदायक हो सकता है। यही वजह है कि कई एक्सपर्ट्स दूध वाली चाय की जगह ग्रीन-टी पीने की सलाह देते हैं। ग्रीन-टी दुनिया भर के लोगों द्वारा बड़े पैमाने पर पी जाती है और इसे हेल्दी भी माना जाता है। यह न सिर्फ चयापचय को बढ़ावा देने का काम करती है, बल्कि वज़न कम करने में मददगार भी साबित होती है।

हालांकि, सच्चाई यह है कि ग्रीन-टी का अधिक सेवन भी शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है। शोध के अनुसार, कैफीन की मात्रा अधिक होने के कारण ग्रीन-टी ज़्यादा पीनी से शरीर में पानी की कमी हो सकती है और पेट में एसिडिटी भी बढ़ सकती है। अगर आप भी ग्रीन-टी पीना पसंद करती हैं, तो आपके लिए इससे होने वाली नुकसान को जानना भी ज़रूरी है।

आइए जानें ग्रीन-टी पीने के 5 दुष्प्रभाव

1. पेट ख़राब हो सकता है

ग्रीन-टी खाली पेट नहीं पीनी चाहिए। अगर इसे खाली पेट पी लिया जाए, तो इससे पेट में दर्द, मतली आना या कब्ज़ हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि ग्रीन-टी में टैनिन होता है, जो पेट के एसिड को बढ़ाता है।

2. शरीर में हो सकती है पानी की कमी

ग्रीन-टी में मूत्रवर्धक गुण होते हैं जिसकी वजह से शरीर में पानी की कमी हो जाती है। इसलिए, ज़्यादा ग्रीन-टी पीने से अत्यधिक मूत्रत्याग और इलेक्ट्रोलाइट असंतुलन हो सकता है।

जो लोग ज़्यादा मात्रा में ग्रीन-टी का सेवन करते हैं उन्हें अक्सर सिरदर्द की शिकायत रहती है, क्योंकि ग्रीन-टी में कैफीन की मात्रा ज़्यादा होती है, जो शरीर में पानी की कमी करता है। जिससे सिर दर्द की शिकायत होने लगती है।

4. शरीर में आयरन की कमी हो सकती है

ग्रीन-टी में कैटेचिन होता है, जो चयापचय को बढ़ावा देने के लिए जाना जाता है, लेकिन इसे ज़रूरत से ज़्यादा पीने से शरीर में आयरन की कमी हो सकती है। अगर कोई पहले से ही आयरन की कमी से जूझ रहा है, तो उसकी स्थिति और खराब कर सकती है।

अगर किसी तरह की दवाएं ले रहे हैं तो इसके साथ ग्रीन-टी न पिएं क्योंकि इससे लीवर के ख़राब होने का ख़तरा बढ़ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here