योगी सरकार को भूमाफिया की खुली चुनौती

0
97

खरिका वार्ड के विनायकी झील, नेपाल गंज तालाब, जैसे ऐतिहासिक तालाब अपना अस्तित्व खोने के कगार पर

लखनऊ।सरकारी जमीनों को खाली कराने को लेकर सूबे में बैठी सरकार भले ही भूमाफियाओं पर शिकंजा लगातार कस रही हो लेकिन आज भी राजधानी के भूमाफिया सरकारी जमीनों को ताल ठोक कर अपना निवाला बना रहे हैं। मामला लखनऊ शहर के नगर निगम जोन आठ का है,जोन आठ के खरिका वार्ड प्रथम में तालाबों के अतिक्रमण को लेकर पूर्व में कई बार कार्यवाहियां हो चुकी हैं, बावजूद इसके खरिका वार्ड के विनायकी झील, नेपाल गंज तालाब, जैसे ऐतिहासिक तालाब अपना अस्तित्व खोने के कगार पर  हैं।

कुम्हारमण्डी तेलीबाग में नगरनिगम के खसरा संख्या 178 ऊसर में दर्ज है, जिसमें स्थानीय दबंग चेतावनी दिये जाने के बाद भी निर्माण करवा रहा है। नगरनिगम के लेखपाल लालबहादुर के मुताबिक खसरा संख्या 178 ऊसर में दर्ज है, कुम्हारमण्डी का अब्दुल गफ्फार निर्माण करवा रहा है, अब्दुल गफ्फार को नगर निगम के द्वारा पूर्व में नोटिस भी भेजी जा चुकी है, यही नहीं लेखपाल ने इस बाबत क्षेत्रीय पुलिस को भी प्रार्थनापत्र देकर निर्माण रुकवाया था, लेकिन अपनी पकड़ और पहुंच के दम पर लगातार निर्माण करवा रहा है। बताते चले कि खरिका वार्ड के लगभग आधा दर्जन तालाब अपना वजूद खोने के कगार पर हैं। संबंधित विभाग तालाबों पर चल रहे अतिक्रमण को लेकर बिल्कुल भी संजीदा नहीं है। पूर्व सभासद प्रताप ने इन तालाबों को कब्जा मुक्त करवाने और बैरीकेडिंग करवाने की मांग को लेकर कई दिनों का अनशन भी किया था। लेकिन विभागीय शिथिलता के चलते भूमाफियाओं ने तालाबों को समतल कर बेच डाला। जहां आज दर्जनों की तादात में रिहायशी मकान बन चुके हैं।

चौकी प्रभारी तेलीबाग अनुज कुमार तिवारी ने बताया कि लेखपाल नगर निगम लालबहादुर ने एक अवैध निर्माण कार्य होने का प्रार्थना पत्र दिया था लेकिन उसमें मुकदमा दर्ज करने की पैरवी नहीं की गई, इसके बावजूद पुलिस ने उक्त निर्माण कार्य रुकवा दिया था, अब अगर निर्माण कार्य हो रहा है तो वह नगर निगम की लापरवाही से हो रहा है।खसरा संख्या 178 ऊसर पर किये जा रहे अतिक्रमण को लेकर मौजूदा सभासद पूनम मिश्र  का कहना है कि 178 पर वाहन पार्किंग का प्रस्ताव बना कर नगर निगम को भेजा गया था, इस अवैध निर्माण के बारे में नगर आयुक्त को सूचित कर दिया था, नव निर्वाचित विधायक डा राजेश्वर सिंह को भी चल रहे अवैध निर्माण के बारे में पूरी जानकारी दी गई है,निर्माण को हर हाल में रोका जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here