24 घंटे में एयरपोर्ट पर पहुंचे 62 तस्करों में 30 फरार- जांच के आदेश, निलंबन की तैयारी

0
201
करोड़ों रुपये की है तस्करी 

लखनऊ: इसे सुरक्षा में चूक कहें या लापरवाही, चौधरी चरण सिंह अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर 24 घंटे में 62 तस्कर पहुंचे, लेकिन 30 फरार हो गए। डायरेक्टरेट आफ रेवेन्यू इंटेलीजेंस (डीआरआइ) ने कस्टम के सहायक आयुक्त एके सिंह सहित आठ अफसरों को एयरपोर्ट से हटाकर मुख्यालय से संबद्ध कर दिया। बुधवार देर रात दस अफसरों व कर्मचारियों की नई टीम एयरपोर्ट पर तैनात कर दी गई।

सोमवार को डीआरआइ की सूचना पर रामपुर के 36 तस्करों को लखनऊ एयरपोर्ट पर पकड़ा गया था। मंगलवार को जांच के दौरान इसमें से 30 तस्कर भाग निकले। इसी दिन 26 अन्य तस्कर बैंकाक से लखनऊ पहुंचे। हालांकि इन्हें पकड़ लिया गया।दोनों मामलों में साढ़े चार करोड़ रुपये से अधिक की विदेशी सिगरेट मिली, लेकिन आशंका है कि पेस्ट के रूप में लाया गया सोना लेकर तस्कर फरार हो गए। डीआरआइ ने जांच के आदेश दिए हैं, लेकिन एयरपोर्ट पर जहां 32 सदस्यीय कस्टम टीम के साथ सीआइएसएफ का भी कड़ा पहरा है, वहां से 30 तस्कर बाहर कैसे निकले? इस पर सवाल उठ रहे हैं।

शारजाह से आए 36 तस्करों से सोमवार को सीआइएसएफ व कस्टम ने एयरपोर्ट पर 3.13 करोड़ की विदेशी सिगरेट व 23.90 लाख रुपये नकद बरामद किए थे। कस्टम अफसरों के मुताबिक, सूचना थी कि तस्करों ने शरीर में साढ़े तीन करोड़ का सोने का पेस्ट छिपाया है, इसलिए उन्हें मेडिकल जांच के लिए रोक लिया गया।

मंगलवार को जब उन्हें जांच के लिए ले जाया गया, तो एक तस्कर ने बेहोश होने का नाटक किया। इसके बाद हंगामा करते हुए 30 यात्री उसे लेकर भाग गए। कस्टम की यह कहानी गले नहीं उतर रही, क्योंकि जब ये हंगामा कर भाग रहे थे, तो सीआइएसएफ को सूचना क्यों नहीं दी गई। कस्टम ने बुधवार को सरोजनीनगर थाने में मामला दर्ज कराया। विभाग के पास 29 यात्रियों के पासपोर्ट भी हैं, जिनकी मदद से उन्हें पकड़ने के लिए छापेमारी की जाएगी। मामला डीआरआइ तक पहुंचा, तो उसने रिपोर्ट मांग ली। कस्टम ने रिपोर्ट दे दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here